शीघ्र विवाह के लिए कई तरह के पूजा-पाठ और उपाय किए जाते हैं। इनमें से कुछ पूजा और उपाय निम्नलिखित हैं

मां कात्यायनी की पूजा: मां कात्यायनी को विवाह की देवी माना जाता है। इनकी पूजा करने से विवाह के योग बनते हैं।

शिव-पार्वती की पूजा : शिव-पार्वती को विवाह का देवता भी माना जाता है। इनकी पूजा करने से विवाह के योग बनते हैं।

शिव-पार्वती की पूजा करने के लिए शिवलिंग का अभिषेक करें। अभिषेक के बाद शिव-पार्वती की आरती करें।

बरगद के पेड़ की पूजा: बरगद के पेड़ को भी विवाह के लिए शुभ माना जाता है। वट वृक्ष की पूजा करने से विवाह की संभावना बढ़ जाती है।

वट वृक्ष की पूजा करने के लिए वट वृक्ष की परिक्रमा करें। परिक्रमा के बाद वट वृक्ष पर जल अर्पित करें।

पूर्णिमा के दिन शिवलिंग का अभिषेक: पूर्णिमा के दिन शिवलिंग का अभिषेक करने से विवाह की संभावना बढ़ जाती है।

गुरुवार को हल्दी से स्नान: गुरुवार को हल्दी से स्नान करने से विवाह की संभावना बढ़ जाती है। हल्दी से स्नान करने से कुंडली में शुक्र ग्रह मजबूत होता है।

भोजन में केसर का सेवन: भोजन में केसर का सेवन करने से विवाह की संभावना बढ़ जाती है। केसर शुक्र ग्रह का प्रतिनिधित्व करता है।

बड़ों का सम्मान करना: बड़ों का सम्मान करने से शादी की संभावना बढ़ जाती है। बड़ों का आशीर्वाद प्राप्त करने से जीवन में सभी खुशियां प्राप्त होती हैं।

शीघ्र विवाह के लिए कौन सा मंत्र है

"ॐ ग्रां ग्रीं ग्रौं सः गुरुवे नमः।"

इस मंत्र का जाप हर गुरुवार को करना चाहिए।

इस मंत्र का जाप करते समय माला को पांच बार घुमाना चाहिए। इससे अविवाहित लोगों की जल्दी शादी हो जाती है।

करवा चौथ का शुभ मुहूर्त क्या है? देखे