Ram Mandir Ayodhya: अयोध्या संघर्ष का अंत, मंगल ध्वनि का गुंजायमान शुरु

प्राण प्रतिष्ठा का पूरा शेड्यूल: श्रीरामजन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र के ट्रस्टियों ने बताया है

Ram Mandir Ayodhya से कि सोमवार (22 जनवरी) को प्राण प्रतिष्ठा के लिए न्यूनतम विधि-अनुष्ठान रखा जाना चाहिए। रामलला की प्राण प्रतिष्ठा की विधि दोपहर 12:20 बजे से प्रारंभ होगी।

प्राण प्रतिष्ठा का पूरा प्रोग्राम क्या है?

22 जनवरी को प्राण प्रतिष्ठा के लिए न्यूनतम विधि-अनुष्ठान जारी रखे गए हैं। श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के अनुसार, अयोध्या में श्री राम जन्मभूमि पर होने वाली प्राण-प्रतिष्ठा समारोह में प्रातः काल 10 बजे से ‘मंगल ध्वनि’ के भव्य वादन का कार्यक्रम है। विभिन्न राज्यों से 50 से अधिक मनोरम वाद्ययंत्रों तक लगभग दो घंटे तक चली यह शुभ घटना का साहित्य।

रात 10:30 बजे तक अथितियो का प्रवेश होगा

अन्य प्राण प्रतिष्ठा महोत्सव में शामिल होने वाले का आगमन प्रारंभ हो जाएगा। पार्टियों को रात 10:30 बजे तक रामजन्मभूमि परिसर में प्रवेश मिलेगा। श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ने बताया कि उसकी ओर से जारी की गई प्रवेशिका के माध्यम से ही प्रवेश संभव है। केवल प्रतीकात्मक पत्र से अतिथि प्रवेश नहीं कर पायेगा। प्रवेशिका पर क्यूआर कोड के मिलान के बाद ही परिसर में प्रवेश की होगी। ट्रस्ट ने सोशल मीडिया पर एक फॉर्मेट में प्रवेशिका भी साझा की है।

Ram Mandir Ayodhya: संघर्ष का अंत, तीस का इंतजार पूरा मंगल ध्वनि का गुंजायमान आपातकाल
Ram Mandir Ayodhya: संघर्ष का अंत, तीस का इंतजार पूरा मंगल ध्वनि का गुंजायमान आपातकाल

प्राण प्रतिष्ठा की विधि दोपहर 12:20 बजे से शुरू

रामलला की प्राण प्रतिष्ठा की विधि 22 जनवरी दोपहर 12:20 बजे से प्रारंभ होगी। प्राण प्रतिष्ठा की मुख्य पूजा अभिजीत मंदिर में की जाएगी। रामलला की प्राण प्रतिष्ठा का समय काशी के विद्वान गणेश्वर शास्त्री द्रविड़ ने लिया है। इस कार्यक्रम में पौष माह के द्वादशी तिथि (22 जनवरी 2024) को अभिजीत नक्षत्र, इंद्र योग, मृगशिरा नक्षत्र, मेष राशि और वृश्चिक नवांश में शामिल किया जाएगा।

84 सेकंड का शुभ मुहूर्त

Ram Mandir Ayodhya: संघर्ष का अंत, तीस का इंतजार पूरा मंगल ध्वनि का गुंजायमान आपातकाल
Ram Mandir Ayodhya: संघर्ष का अंत, तीस का इंतजार पूरा मंगल ध्वनि का गुंजायमान आपातकाल

शुभ दिन तूफान के 12 सेकंड से 29 मिनट और 08 सेकंड तक का 12 सेकंड से 30 मिनट और 32 सेकंड तक का रहेगा। यानि प्राण प्रतिष्ठा का शुभ उत्सव केवल 84 सेकंड का है। पूजा-विधि के जजमान पीएम नरेंद्र मोदी के हाथों श्रीरामलला के विग्रह की प्राण प्रतिष्ठा होगी। यह आश्रम काशी के आध्यात्मिक गुरु गणेश्वर द्रविड़ और आचार्य लक्ष्मीकांत आचार्य के निर्देशन में 121 वैदिक आचार्य आचार्य कराएँगे। इस दौरान 150 से अधिक ईसाइयों के संत-धर्माचार्य और 50 से अधिक ईसाइयों, गिरिवासी, तटवासी, द्वीपवासी, जन-आदिवासी, ईसाईयों की भी उपस्थिति होगी।

Ram Mandir Ayodhya: संघर्ष का अंत, तीस का इंतजार पूरा मंगल ध्वनि का गुंजायमान आपातकाल
Ram Mandir Ayodhya: संघर्ष का अंत, तीस का इंतजार पूरा मंगल ध्वनि का गुंजायमान आपातकाल

चार घंटे की अयोध्या में पीएम मोदी

पीएम मोदी सोमवार को चार घंटे अयोध्या में रहेंगे। सुबह 10:25 बजे अयोध्या एयरपोर्ट और 10:55 बजे राम जन्मभूमि मंदिर। प्राण प्रतिष्ठा समारोह में शामिल होने के बाद एक बजे प्रस्थान कर सभा को संबोधित करेंगे। 2:10 कुबेर टीला के दर्शन कर दिल्ली लौटें।

शाम को होगा दीप प्रज्वलन

Ram Mandir Ayodhya: संघर्ष का अंत, तीस का इंतजार पूरा मंगल ध्वनि का गुंजायमान आपातकाल
Ram Mandir Ayodhya: संघर्ष का अंत, तीस का इंतजार पूरा मंगल ध्वनि का गुंजायमान आपातकाल

प्राण-प्रतिष्ठा महोत्सव पूर्ण होने के बाद ‘राम ज्योति’ प्रज्ज्वलित कर दीपावली मनाई जाएगी। शाम को अयोध्या 10 लाख दीयों से जगमगा उठेगा। इसके साथ ही मकानों, रेस्तरां, ऐतिहासिक स्थलों और पौराणिक स्थलों पर ‘राम ज्योति’ प्रज्जवलित की जाएगी। अयोध्या सरयू नदी के पहाड़ों की मिट्टी से बने दीयों से रोशन होगी। रामलला, कनक भवन, हनुमानगढ़ी, गुप्तारघाट, सरयू तट, टाटा मंगेशकर चौक, मणिराम दास बौद्ध सहित 100 तीर्थ, प्रमुख धार्मिक स्थल और सार्वजनिक स्थल दीप प्रज्वलित होंगे।

प्राण प्रतिष्ठा होने के बाद पूरी की पूरी

श्रीरामजन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र के ट्रस्टों के महासचिव चंपत राय ने बताया कि प्राण प्रतिष्ठा का पूरा कार्यक्रम दोपहर एक बजे तक पूरा हो जाएगा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, संघ प्रमुख मोहन भागवत संदेश देने के बाद सभी पूजा-विधि समाप्त होगी वहीं श्रीरामजन्मभूमि तीर्थक्षेत्र के ट्रस्टी अध्यक्ष महंत नृत्यगोपाल दास आशीर्वाद देंगे।

1 thought on “Ram Mandir Ayodhya: अयोध्या संघर्ष का अंत, मंगल ध्वनि का गुंजायमान शुरु”

Leave a Comment

बाबा नीम करोली: क्या वे वास्तव में हनुमान जी का अवतार थे? जाने भारत का सबसे महंगा होटल कौन सा है? घनी दाढ़ी बढ़ाने के लिए क्या करें? किडनी खराब होने लक्षण और संकेत Kagney Linn Karter : Adult फिल्म स्टार का 36 साल की उम्र में आत्महत्या से निधन Climber Rose Plant : गुलाब का पौधा लगाना,बीज से लेकर खिलने तक Disha Parmar Age: राहुल वैद्य और दिशा परमार ने बेटी संग दिखाई पहली फैमिली फोटो Vikrant Massey : विक्रांत मैसी और शीतल ठाकुर ने मनाई दूसरी सालगिरह दुनिया की पहली उड़ने वाली बाइक Riteish Deshmukh Movies : रितेश देशमुख शिवाजी महाराज बायोपिक का नेतृत्व करेंगे Holi:-2024 में होली कितने मार्च को है? मोनी रॉय की मनमोहक ब्लैक वेलवेट गाउन Anjana Bhowmick: दिग्गज अभिनेत्री अंजना भौमिक का निधन आयशा की प्लास्टिक सर्जरी पर उठने वाले सवालों का जवाब होलिका दहन की कहानी क्या है? Kavita Choudhary :’ललिताजी’, पुरालेख उड़ान अभिनेत्री कविता चौधरी का 67 वर्ष आयु में निधन दुनिया का पहला फोल्डिंग माइक्रो एलईडी टीवी हुआ लॉन्च, जानिए इसकी खासियतें मशरूम की सब्जी हिंदी में प्रकार देखे यहाँ मनुष्य की आंखों के आंसू में क्या पाया जाता है? सारा तेंदुलकर की वैलेंटाइन डे पोस्ट देखकर आप भी फैन हो जाएंगे