बच्चे कहना नहीं मानते तो क्या करें और कैसे समझाए

बच्चे ने नहीं कहा तो क्या करें और कैसे समझें

बच्चे कहना नहीं मानते तो क्या करें और कैसे समझाए
बच्चे कहना नहीं मानते तो क्या करें और कैसे समझाए

बच्चे कहना नहीं मानते तो कई कारण हो सकते हैं। जैसे कि:

Table of Contents

  1. बच्चे का अभी भी विकास समझ में आता है और उसकी समझ सीमित है।
  2. बच्चे अपने अलास्का जाना चाहते हैं और उन पर नियंत्रण रखने की कोशिश का विरोध कर सकते हैं।
  3. बच्चों को टेक-टेक सिखाएं और अगर उन्हें अपनी बात ना बताई जाए तो वे भी ऐसा कर सकते हैं।
  4. अपशब्द न बोलें पर बच्चों को डांटना, पीटना या बेचना सही तरीका नहीं है। इससे बच्चे और विद्रोही भी हो सकते हैं। बच्चों के लिए उपलब्ध चित्र

निम्न तरीके अपनाये जा सकते हैं:

  • शांत रहें और बच्चे को पूरी कहानी बताएं। जब बच्चा बोल रहा हो तो उसे बीच में न रोकें। उसे एहसास हुआ कि आप उसकी बात सुन रहे थे और इशारों से बात करने की कोशिश कर रहे थे।
  • बच्चे की भावनाओं को स्वीकार करें. बच्चा ऐसा क्यों कर रहा है, इसके पीछे का अनोखा कारण जानने की कोशिश करें। आप बच्चे की भावनाओं को समझकर उसे बेहतर तरीके से समझा सकते हैं।
  • बच्चे को प्यार से समझाएं. इससे बच्चे को यह समझ आता है कि वह जो कुछ भी कहता है वह महत्वपूर्ण नहीं है, लेकिन कुछ चीजें हैं जो महत्वपूर्ण हैं। समझाएं कि उसकी कोई भी बात उसे किसी भी तरह से बर्बाद नहीं कर सकती।
  • बच्चे को सही चुनाव करने में मदद करें। बच्चे को समझाएं कि उसे क्या करना चाहिए और क्या नहीं। उसे सही चुनाव करने में मदद करें।
  • बच्चे की सकारात्मकता को बढ़ावा दें. जब आपका बच्चा आपसे बात करे तो उसकी सराहना करें और उसकी प्रशंसा करें। इसके परिणामस्वरूप बच्चे को अच्छे व्यवहार के लिए पदावनत कर दिया जाएगा।
  • उदाहरण के लिए, मान लें कि आपका बच्चा स्कूल जाने से इनकार कर रहा है। ऐसे में उसे डांटने या मारने की बजाय प्यार से समझाएं कि स्कूल जाना जरूरी है। कहा कि वह स्कूल में अपने दोस्तों से मिलें, नई चीजें सीखें और अपना भविष्य बेहतर बनाएं। उसे यह भी बताएं कि अगर वह स्कूल नहीं जाएगा तो उसे नुकसान हो सकता है। जैसे कि वह परीक्षा में फेल हो सकता है या उसे अच्छी नौकरी नहीं मिल पाएगी।

यदि आपके देखने के बाद भी बच्चा कुछ गलत करता है तो उसे चेतावनी दें। उन्होंने कहा कि अगर उन्होंने इस तरह की कोशिश की तो उन्हें सजा दी जाएगी. लेकिन ध्यान रहे कि बच्चों को सजा देना सही नहीं है, उनका सजा देना सही नहीं है।

बच्चों के लिए धैर्य और समय की जरुरत होती है। अगर आप नियमित रूप से इन सिलिकॉन में जाते हैं तो आपका बच्चा आपसे बात करना शुरू कर देगा।

बच्चे कहना नहीं मानते तो क्या करें और कैसे समझाए
बच्चे कहना नहीं मानते तो क्या करें और कैसे समझाए

अगर आपका बच्चा मोबाइल फोन मांगते हैं, तो निम्नलिखित बातें ध्यान रखें:

  • बच्चे की उम्र और ज़रूरतों का ध्यान रखें. अगर बच्चा बहुत छोटा है तो उसे मोबाइल की जरूरत नहीं है. मोबाइल का इस्तेमाल करने से नुकसान हो सकता है.
  • बच्चे को मोबाइल से होने वाले नुकसान के बारे में समझाएं। मोबाइल के ज्यादा इस्तेमाल से बच्चे को कई नुकसान हो सकते हैं, जैसे मानसिक स्वास्थ्य समस्याएं, शारीरिक समस्याएं और सामाजिक समस्याएं।
  • बच्चों को मोबाइल इस्तेमाल करने के निर्देश. जैसे कि मोबाइल को कितनी देर तक इस्तेमाल करना चाहिए, मोबाइल को कब इस्तेमाल करना चाहिए, मोबाइल को कैसे इस्तेमाल करना चाहिए।
  • मोबाइल के इस्तेमाल के लिए बच्चे को जिम्मेदारी दें. बच्चे को समझाएं कि मोबाइल का इस्तेमाल कैसे करना है ताकि उसे नुकसान न हो।

अगर बच्चा मोबाइल का इस्तेमाल करना चाहता है तो ये काम कर सकते हैं:

  • बच्चे को मोबाइल के उपयोग के नियम समझाएं। और अगर वह बैटरी का बिजनेस नहीं चाहता तो उसे मोबाइल नहीं देना होगा।
  • बच्चे के लिए मोबाइल की जगह अन्य विकल्प। जैसे कि किताबें, गेम खेलना या दोस्तों के साथ खेलना।
  • बच्चे को मोबाइल के इस्तेमाल के लिए प्रेरित करें. जैसे कि किसी को मोबाइल का उपयोग करके कुछ सीखना या नई चीजें बनाना शामिल है।

यहां एक उदाहरण दिया गया है कि आप अपने बच्चे को मोबाइल का इस्तेमाल कैसे समझा सकते हैं:

बच्चे कहना नहीं मानते तो क्या करें और कैसे समझाए
बच्चे कहना नहीं मानते तो क्या करें और कैसे समझाए
  • माता-पिता: बेटा, मैं नवीनतम हूँ कि तुम मोबाइल का उपयोग करना चाहते हो। लेकिन मोबाइल के सबसे ज्यादा इस्तेमाल से सुरक्षा को नुकसान हो सकता है। जैसे आँखों की रोशनी देर से हो सकती है, आप तनावग्रस्त हो सकते हैं और आप अपने दोस्तों से दूर हो सकते हैं।
  • बच्चा: लेकिन मैं मोबाइल से नई किताबें सीखना चाहता हूं।
  • माता-पिता: मैं नवीनतम हूं। लेकिन आप मोबाइल की जगह नई-नई चीजें सीख सकते हैं। या फिर आप ऑनलाइन वीडियो देखकर भी नई-नई चीजें सीख सकते हैं।
  • बच्चा: ठीक है. मैं मोबाइल का कम इस्तेमाल करुंगा.इस तरह आप अपने बच्चे को मोबाइल इस्तेमाल करने के बारे में समझा सकते हैं और उसे मोबाइल इस्तेमाल करने की ज़िम्मेदारी दे सकते हैं।

अगर बच्चा नहीं है तो यह एक आम समस्या है। माता-पिता बार-बार चिंताग्रस्त रहते हैं कि उनका बच्चा उनकी बात नहीं बताता और उनका उल्लंघन करता है। इस समस्या से बचने के लिए कुछ प्रेरणादायक सुझाव निम्न हैं:

  • आपके बच्चे के साथ अच्छे संबंध निश्चित। बच्चा अपने माता-पिता से प्यार और सम्मान की उम्मीद करता है। अगर आपके बच्चे के साथ अच्छा रिश्ता टूट गया है तो आप उसकी बातें सबसे ज्यादा पसंद करेंगी।
  • अपने बच्चों के साथ खुले और ईमानदार रहें। अपने बच्चे से बात करें और उसे बताएं कि आप क्या चाहते हैं। उन्होंने कहा कि आप उनकी जगह के लिए क्या कर रहे हैं
  • अपने बच्चे को जिम्मेदारी लेने का निर्देश दें। अपने बच्चे को छोटी-छोटी जिम्मेदारियाँ दें और उसे अपना काम पूरा करें। इससे उन्हें सामान और आत्मसम्मान मिलेगा।
  • आपके बच्चे को सकारात्मक प्रतिक्रिया. जब आपका बच्चा कुछ ऐसा करता है जिसे आप टैग करते हैं, तो उसे सकारात्मक प्रतिक्रिया दें। इससे उन्हें सीखने में मदद मिलती है कि अच्छे व्यवहार के लिए आपकी सलाह ली जाती है।
  • अपने बच्चे को दिशानिर्देश निर्देश. जब आपका बच्चा आपके मानक का पालन नहीं कर रहा हो, तो उसे दिशानिर्देश बताएं। लेकिन निर्देश हमेशा सकारात्मक रहना चाहिए.

पने बच्चे को कभी भी शारीरिक या मानसिक रूप से सर्जरी न करवाएं।

  • यहां पर कुछ अतिरिक्त सुझाव दिए गए हैं जो आपके बच्चे को सुनने के लिए प्रेरित कर सकते हैं:

    बच्चे कहना नहीं मानते तो क्या करें और कैसे समझाए
    बच्चे कहना नहीं मानते तो क्या करें और कैसे समझाए
  • अपने बच्चे को समझाएं कि उसकी नौकरी के परिणाम क्या होंगे। उससे कहा कि अगर आपके पास कोई निशान नहीं है तो वह क्या खोएगा।
  • इससे आपके बच्चे को पता चलता है कि आप उसकी बातों को सुनने के लिए तैयार हैं। उसने कहा कि उसकी मदद के लिए हथियार हमेशा तैयार रहना चाहिए।
  • अपने बच्चे को प्यार और सहयोग दें। उसे बताओ कि तुम उससे प्यार करते हो और उसकी परवाह करते हो।
  • ये याद रखना ज़रूरी है कि बच्चे सीख रहे हैं। उन्हें सीखने में अच्छा प्रचार करने में समय लगता है। धैर्य और समझ के साथ, आप अपने बच्चे को सुनाते हैं के लिए प्रेरित कर सकते हैं।

1 thought on “बच्चे कहना नहीं मानते तो क्या करें और कैसे समझाए”

Leave a Comment

इंस्टाग्राम स्टोरी डाउनलोड : पर सबसे ज्यादा कमाई वाली हस्तियां Swachh Bharat Abhiyan Essay: स्वच्छ भारत अभियान का मतलब जाने सही से Diabetic Retinopathy : अंधेपन की ओर बढ़ने लगे हैं शुगर के मरीज गर्दन में दर्द: गले में थायराइड की गांठ लक्षण, कारण Pistachio Tree: हर दिन पिस्ता खाने के 5 ज़बरदस्त फायदे Depression: नाच, योग और वजन उठाना Depression को कम करने के लिए सबसे प्रभावी व्यायामों में से हैं कौन सा फल शरीर के किस अंग के लिए अच्छा है? जाने बाबा नीम करोली: क्या वे वास्तव में हनुमान जी का अवतार थे? जाने भारत का सबसे महंगा होटल कौन सा है? घनी दाढ़ी बढ़ाने के लिए क्या करें? किडनी खराब होने लक्षण और संकेत Kagney Linn Karter : Adult फिल्म स्टार का 36 साल की उम्र में आत्महत्या से निधन Climber Rose Plant : गुलाब का पौधा लगाना,बीज से लेकर खिलने तक Disha Parmar Age: राहुल वैद्य और दिशा परमार ने बेटी संग दिखाई पहली फैमिली फोटो Vikrant Massey : विक्रांत मैसी और शीतल ठाकुर ने मनाई दूसरी सालगिरह दुनिया की पहली उड़ने वाली बाइक Riteish Deshmukh Movies : रितेश देशमुख शिवाजी महाराज बायोपिक का नेतृत्व करेंगे Holi:-2024 में होली कितने मार्च को है? मोनी रॉय की मनमोहक ब्लैक वेलवेट गाउन Anjana Bhowmick: दिग्गज अभिनेत्री अंजना भौमिक का निधन